Ticker

6/recent/ticker-posts

Deputy CM , मा उपमुख्यमंत्री श्री मौर्य ने अमेठी में पंडित दीनदयाल उपाध्याय अमृत सरोवर का लोकार्पण किया।

उपमुख्यमंत्री श्री मौर्य ने अमेठी में पंडित दीनदयाल उपाध्याय अमृत सरोवर का लोकार्पण किया।

सभी कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप हो  और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए केशव प्रसाद मौर्य 

6AM NEWS TIMES : Edited by. Ravindra yadav Lucknow 9415461079, 25, Aug, 2022 : Thu, 12 : 25 AM


लखनऊ: उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने  बुधवार को अमेठी जनपद के विकास खंड गौरीगंज के ग्राम पंचायत ( भुण्डहा ) सेम्भुई में पंडित दीनदयाल उपाध्याय अमृत सरोवर का लोकार्पण किया। 


उन्होंने इसी विकासखंड गौरीगंज के ग्राम पंचायत में प्राइमरी पाठशाला व आंगनवाड़ी केंद्र का निरीक्षण कर विद्युत कनेक्शन, पेयजल, बच्चों के लिए रखे खिलौने, छोटी कुर्सी आदि सामान की व्यवस्था के बारे में जानकारी ली। साथ ही नन्हे बच्चों को खीर खिलाकर अन्नप्राशन संस्कार कराया।


 उन्होंने वृक्षारोपण के साथ अमृत सरोवरो के महत्व वह महत्ता पर प्रकाश डाला। जल संरक्षण और जल संचयन के मुख्य उद्देश्य से बनाये जा रहे अमृत सरोवरो पर साफ सफाई पर विशेष ध्यान देने के उन्होंने निर्देश दिए। कहा अमृत सरोवर ग्रामीण पर्यटन केंद्र के रूप में विकसित किए जाएं। लोकार्पित किये गये अमृत सरोवर की अनुमानित लागत रू 19 लाख  है। 


प्राइमरी पाठशाला के निरीक्षण में उन्होंने शिक्षा की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। उन्होंने बच्चों की शिक्षा की जमीनी हकीकत को भी समझा और कहा कि शिक्षा का मकसद कौशल और विशेषज्ञता के साथ अच्छा इंसान बनाना है। 


उन्होंने शिक्षकों को शिक्षा के साथ बच्चों में अच्छे संस्कार देने के भी निर्देश दिए। उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्र मे बच्चों के लिए की गई व्यवस्थाओं का जायजा भी लिया।


 ग्राम पंचायत सेम्भुई में उप मुख्यमंत्री श्री मौर्य ने अस्थाई गोवंश आश्रय स्थल का निरीक्षण भी किया व सम्बंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश दिए।


 श्री मौर्य ने जल जीवन मिशन के तहत निर्माणाधीन सोंगरा ग्रामीण पेयजल योजना का सघन निरीक्षण किया। परियोजना के बारे में ग्रामीणों से फीड बैक लिया। श्रमिकों व तकनीकी विशेषज्ञो से वार्ता की। ग्रामीणो ने बताया कि पाइप लाइन लगभग  3 फिट नीचे डाली जा रही है। निर्माणाधीन ओवर हेड टैंक की क्षमता की जानकारी हासिल करते हुए निर्देश दिए कि सभी कार्य निर्धारित मानकों के अनुरूप ही कराये जाये और गुणवत्ता पर विशेष ध्यान दिया जाए।

कहा कार्य तीव्र गति से कराते हुते निर्धारित समय सीमा में पूरा कराया जाए।


🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ