राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

#VIKAS_DUBEY_KANPUR_VALA Vikas Dubey had told DROGA KK Sharma standing next to him_don't_be_afraid, come closer

विकास दुबे ने बगल में खड़े दरोगा केके शर्मा से कहा था- डरो नहीं नजदीक आ जाओ। अमर दुबे की शादी के मंच पर जब पहुंचा था दरोगा के के शर्मा। 

#6AM_NEWS_TIMES_Lucknow 


थाने के दरोगा केके शर्मा ( बाएं से पहला ) की तस्वीर वायरल

लखनऊ। यह तस्वीर कानपुर के बिकर गांव की है । 8 पुलिसवालों की हत्या के आरोपी अमर दुबे की शादी में गैंगस्टर विकास दुबे के साथ चौबेपुर थाने के दरोगा केके शर्मा ( बाएं से पहला ) की तस्वीर वायरल । 29 जून को विकास दुबे के किलानुमे घर में हुई थी उसके गुर्गे अमर दुबे की शादी। आठ जुलाई की सुबह हमीरपुर में एसटीएफ ने अमर का एनकाउंटर कर दिया था। बिकर गांव के बीट प्रभारी केके शर्मा पर विकास को दबिश की सूचना देने का आरोप जेल से सुप्रीम कोर्ट में लगाई है याचिका , सुरक्षा की उठाई मांग कानपुर शूटआउट के आरोपी विकास दुबे का नया वीडियो सामने आया है , जो उसके राइट हैंड अमर दुबे की 29 जून को हुई शादी का है । इसमें बीट प्रभारी दरोगा केके शर्मा भी दिख रहा है । वह वरमाला स्टेज पर विकास दुबे के साथ वर - वधू को आशीर्वाद देने पहुंचा था । तभी विकास दुबे ने उसे अपनी तरफ खींचते हुए कहा कि , डरो नहीं। नजदीक आ जाओ । 

घटनाक्रम। 10 जुलाई की सुबह विकास दुबे का कानपुर के भौंती में एनकाउंटर कर दिया गया था । जबकि , अमर दुबे 9 जुलाई को हमीरपुर में पुलिस के साथ हुए मुठभेड़ में ढेर हुआ था। दरोगा शर्मा पर विकास दुबे को दबिश की मुखबिरी करने का आरोप है। एसटीएफ ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था । 


  एनकाउंटर में मारे गए अमर दुबे के साथ दरोगा केके शर्मा । 

चौबेपुर एसओ और दरोगा केके शर्मा की जल्द हो सकती है बर्खास्तगी बिकर गांव चौबेपुर थाना क्षेत्र में है । 

बीते माह दो जुलाई 2020 को बिकर गांव में चौबेपुर के अलावा शिवराजपुर और बिठूर थाने की फोर्स लेकर सीओ बिल्हौर देवेंद्र मिश्र विकास दुबे की गिरफ्तारी के लिए दबिश देने पहुंचे थे । लेकिन , विकास दुबे को दबिश की भनक पहले ही लग गई थी । आरोप है कि दबिश की सूचना चौबेपुर के एसओ रहे विनय तिवारी और बीट इंचार्ज केके शर्मा ने दी थी । इसके सबूत भी एसटीएफ के हाथ लगे । विकास दुबे ने केके शर्मा से कहा था कि , आज बिकरु गांव से लाशें उठेगी । मुठभेड़ के वक्त विकास दुबे और उसके साथियों ने सीओ समेत आठ पुलिस वालों की हत्या कर दी । एसटीएफ ने विनय तिवारी और केके शर्मा को गिरफ्तार कर जेला भेजा था । अब इन पर जल्द ही बर्खास्तगी की कार्रवाई भी होगी । 

खुद की जान को बताया था खतरा दरोगा केके शर्मा ने विकास दुबे और उसके पांच साथियों के एनकाउंटर के बाद खुद की जान को खतरा बताते हुए तीन दिन पहले सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई है । शर्मा ने मामले की जांच यूपी पुलिस के बजाय सीबीआई या किसी दूसरी स्वतंत्र एजेंसी से कराए जाने की मांग की है ।







...... 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें