Ticker

6/recent/ticker-posts

PUBG Killer Lucknow : मां की हत्या, शव घर में पड़ा रहा, बेटा दोस्तों के साथ मौज मस्ती करता रहा

मां की हत्या, शव घर में पड़ा रहा, बेटा दोस्तों के साथ मौज मस्ती करता रहा 

कातिल नाबालिग बेटे ने मां की हत्या कर केमिकल से शव गलाने किया प्रयास। 

6 AM NEWS TIMES : Edited by. Ravindra yadav Lucknow 9415461079, 08, Jun, 2022 : Wed, 11 : 37 AM 

                        फोटो : सोशल मीडिया, 


लखनऊ उत्तर प्रदेश की राजधानी में सनसनीखेज वारदात सामने आई है। यहां पबजी गेम के आदी नाबालिग बेटे ने मां साधना सिंह (40) की गोली मारकर हत्या कर दी। उसके शव केसाथ दो दिन व तीन रात तक घर में रहा। वहीं छोटी बहन को धमकी दी कि अगर पुलिस या किसी को बताया तो उसे भी मार देगा। मंगलवार को बदबू फैलने लगी तो कहानी गढ़ी और पिता को सूचना दी। जिसपर पड़ोसियों ने पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। वहीं नाबालिग बेटे से पूछताछ की तो सारी हकीकत सामने आ गई। पुलिस के मुताबिक पति सेना में सुबेदार मेजर (जेसीओ) के पद पर आसनसोल में तैनात है।


 मूलरुप से वाराणसी के रहने वाले नवीन सिंह सेना में सुबेदार मेजर (जेसीओ) के पद पर तैनात है। वर्तमान में उनकी तैनाती पश्चिम बंगाल के आसनसोल में हैं। वह परिवार के साथ पीजीआई के पंचमखेड़ा स्थित जमुनापुरम कालोनी में रहते हैं। 



एडीसीपी पूर्वी कासिम आब्दी के मुताबिक नवीन के परिवार में पत्नी साधना सिंह, 16 साल का बेटा और 9 साल की बेटी है। तीनों पीजीआई में निर्मित मकान में रहते हैं। शनिवार रात को साधना दोनों बच्चों के साथ कमरे में सो रही थी। 



रात करीब 3 बजे बेटे ने पिता की लाइसेंसी पिस्तौल से सिर में गोली मार दी। जिससे साधना की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं छोटी बहन को धमकी देकर दूसरे कमरे में लेकर गया। जहां पर दोनों सो गये। सुबह उठने केबाद बहन को दोबारा धमकी दी। कहा कि पुलिस या किसी को बताया तो उसे भी जान से मार देगा।

पुलिस के मुताबिक पूछताछ में उसने अपना जुर्म भी कुबूल कर लिया। उसने बताया कि दस हजार रुपये की चोरी का आरोप लगाकर मां ने पीटा था। जबकि कुछ देर बाद रुपये घर में ही मिले गए। इसी बात की नाराजगी ने मां-बेटे के रिश्ते को खूनी कर दिया। पुलिस केमुताबिक आरोपी नाबालिग बेटा हत्या के दूसरे दिन रविवार को अपने दोस्तों के साथ खेलने गया। 


इस दौरान बहन को कमरे में बंद कर दिया था। यहीं नहीं वह दिन भर खेलने के बाद कुछ करीबी दोस्तों को घर भी बुलाता था। वहां घंटो बैठकर टीवी देखता और उनके साथ मौज-मस्ती करता। दुर्गंध न आए इसका भी ख्याल रखता था, इसलिए वह हर कमरे में रूम फ्रेशनर का प्रयोग करता। 

किसी ने पूछताछ की तो बताया कि लग रहा है कोई जानवर मर गया है। मां के आने के बाद साफ करा दिया जाएगा। इस दौरान बहन को गुमसुम देख दोस्त पूछताछ करते तो बताता कि मां चाचा के घर गई है। इस कारण वह परेशान है।

शव को गलाने के लिए केमिकल का प्रयोग किया। 

आरोपी तीन दिन तक शव के साथ रहा। इस दौरान उसने शव को गलाने की भी कोशिश की। इसके लिए केमिकल का प्रयोग किया था। शव का कुछ हिस्सा झुलसा है। पुलिस के मुताबिक, शव की स्थिति काफी खराब होने से पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही इसकी पुष्टि हो सकेगी। हालांकि फोरेंसिक टीम ने भी इसकी आशंका जाहिर करते हुए साक्ष्य लिए हैं।









✔️✔️✔️✔️✔️✔️

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ