राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

Yogi 2.0 Encounter : योगी पुलिस ने कुख्यात सोनू सिंह के बाद अब राहुल सिंह को किया ढेर


Yogi 2.0 में सबसे पहले मारा गया सोनू सिंह और अब राहुल सिंह। 

लखनऊ शपथ ग्रहण से चंद घंटे पहले योगी पुलिस ने मुठभेड़ में कुख्यात बदमाश राहुल सिंह को किया ढेर। 

6am On the way : Edited by रविन्द्र यादव, लखनऊ, 9415461079, 25/ Mar/ 2022 : Fri. 11: 40 AM


लखनऊ : पुलिस ने उसे हसनगंज इलाके में हुई मुठभेड़ के बाद मार गिराया है। राहुल सिंह पर अलीगंज ज्वैलर्स लूट कांड का आरोप था उसने इस लूट के दौरान एक कर्मचारी की हत्या कर दी थी। 

पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक, एक लाख रुपये के इनामी राहुल सिंह को शुक्रवार तड़के 4 बजे लखनऊ पुलिस ने हसनगंज इलाके में घेर लिया। इसके बाद दोनों से तरफ से फायरिंग शुरू हो गई. अलीगंज थाना क्षेत्र के बंधा रोड पर हुई मुठभेड़ में राहुल सिंह घायल हो गया उसे ट्रामा सेंटर में एडमिट कराया गया है, जहां उसकी मौत हो गई है। 


बीते साल अलीगंज में ज्वेलरी की दुकान में दिनदहाड़े हुई लूट का मुख्य आरोपी राहुल सिंह था। राहुल के पास से ज्वेलरी शोरूम से लूट के जेवरात भी बरामद हुए हैं. इसके साथ ही पुलिस को उसके पास से पिस्टल और कई जिंदा कारतूस मिले हैं. फिलहाल राहुल सिंह के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। 

Yogi 2.0 में सबसे पहले मारा गया सोनू सिंह। 

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार की वापसी के बाद अपराधियों पर नकेल कसनी शुरू हो गई है. राहुल सिंह दूसरा बदमाश है, जो दूसरी बार योगी सरकार 2.0 में ढेर हुआ है. इससे पहले वाराणसी में 2 लाख के इनामी बदमाश मनीष सिंह उर्फ सोनू सिंह को पुलिस ने ढेर कर दिया था. उस पर कई दर्जन मुकदमें दर्ज थे। 


21 मार्च को वाराणसी के लोहता थाना क्षेत्र के रिंगरोड के पास यूपी एसटीएफ ने दो लाख रुपये के इनामी बदमाश मनीष सिंह उर्फ सोनू सिंह को एक एनकाउंटर में ढेर कर दिया. सोनू सिंह लोगों के लिए पिछले 10 साल से परेशानी का सबब बना हुआ था। कई हत्या और लूट के मामलों में सोनू सिंह वांछित था और उसके ऊपर 30 से ज्यादा मुकदमे दर्ज थे। 

लोगों के लिए परेशानी का सबब बन चुके सोनू सिंह के एनकाउंटर के बाद लोगों ने जश्न मनाया था। इस दौरान वहां मौजूद लोगों ने बुलडोजर बाबा जिंदाबाद के नारे भी लगाए थे। योगी सरकार की वापसी के बाद अब तक दो एनकाउंटर में बदमाश ढेर हुए, जबकि कई एनकाउंटर में बदमाशों को गोली लगे है. साथ ही कई बदमाश खुद ही सरेंडर कर रहे हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें