Ticker

6/recent/ticker-posts

UP_Criminals ; राजधानी लखनऊ में मंदिर के बुजुर्ग पुजारी की बेरहमी से हत्या

 लखनऊ में मंदिर के बुजुर्ग पुजारी की बेरहमी से हत्या : मंदिर के हवन कुंड के पास मिला खून से लथपथ शव; 

सब्सक्राइब करें। www.6amnewstimes.com Ravindra Yadav lucknow 21:01:2021


लखनऊ। बख्शी का तालाब थाना क्षेत्र का मामला,

पुलिस ने घटनास्थल पर पड़ताल की है पुलिस को मंदिर आने - जाने वाले पर हत्या का शक। शव के पास पड़ी थी ईंट दानपात्र व अन्य सामान सुरक्षित, मगर ग्रामीणों को शक कि चोरी करने आए बदमाशों ने मारा राजधानी लखनऊ में मंगलवार रात एक मंदिर के बुजुर्ग पुजारी की बेरहमी से हत्या कर दी गई। सुबह जब लोगों ने पुजारी को मृत देखा तो पुलिस को सूचना दी गई। फॉरेंसिक टीम ने मौके से साक्ष्य जुटाए हैं। आसपास लगे CCTV को खंगाला गया है।

 एसपी ग्रामीण हृदयेश कुमार ने हत्या का जल्द खुलासा करने का दावा किया है । प्रधान की सूचना पर पहुंची थी पुलिस, सिर के पीछे मिले चोट के निशान बख्शी का तालाब थाना क्षेत्र अंतर्गत शिवपुरी क्षेत्र में प्राचीन रण बाबा महादेव मंदिर है । 

सुल्तानपुर के रहने वाले 80 साल के फकीरे दास बतौर पुजारी बीते कई सालों से मंदिर में रहते थे । बुधवार सुबह मंदिर के भीतर फकीरे दास का खून से लथपथ शव मिला । ग्राम प्रधान ने इसकी सूचना पुलिस को दी । एसपी ग्रामीण हृदयेश कुमार ने बताया कि फकीरे दास के सिर के पीछे चोट के निशान मिले हैं । जिससे खून भी निकला है । मंदिर के भीतर कुछ नशीले पदार्थ और हथौड़े जैसी चीजें मिली हैं । लेकिन उनका इस्तेमाल किया जाना नहीं पाया गया


  पुजारी फकीरे मंदिर में करीब 15 साल से रह रहा था ।  

IG ने किया निरीक्षण , खुलासा करने का दिया निर्देश पुजारी फकीरे दास का शव हवन कुंड के पास पाया गया, बगल में ईंट पड़ी हुई थी । मंदिर का दान पात्र व अन्य सामान सब सुरक्षित पाए गए हैं । फकीरे दास काफी बुजुर्ग व शारीरिक रूप से अस्वस्थ व कमजोर थे । 

घटना के कारणों का पता करने के लिए मंदिर पर शाम के समय आने वालों की तलाश की जा रही है । शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है । डॉग स्क्वॉयड , फिंगरप्रिंट एक्सपर्ट टीम ने पड़ताल की है । गांव वालों व आसपास के लोगों से पूछताछ कर जानकारी इकट्ठा की जा रही है । घटनास्थल का पुलिस महानिरीक्षक लखनऊ परिक्षेत्र लक्ष्मी सिंह द्वारा मौका मुआयना कर घटना के शीघ्र अनावरण के लिए दिशा निर्देश दिए गए हैं ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ