Ticker

6/recent/ticker-posts

fake_inspector_arrested_in_lucknow ; इंस्‍पेक्‍टर की वर्दी में लखनऊ के नटवरलाल।

 इंस्‍पेक्‍टर की वर्दी में लखनऊ के नटवरलाल कैंस‍िल चेक लेकर पब्‍ल‍िक को लगा रहा था चूना। 

Subscribe Now www.6amnewstimes.com Ravindra Yadav lucknow 16:01:2021


         फर्जी इंस्पेक्टर की वर्दी में को गिरफ्तार आरोपित। 

फर्जी इंस्पेक्टर गिरफ्तार, लोगों से करता था ठगी। साइबर सेल की टीम ने वृंदावन कॉलोनी से दबोचा।

आरोप‍ित ने बताया कि वह अपने एक दोस्त से विभिन्न बैंकों के कैंसिल चेक का डाटा खरीदता था और फ‍िर लोगों के घर जाकर कैंस‍िल चेक हास‍िल कर खाते से ढाई सौ से तीन सौ रुपये एक साथ प्रति माह न‍िकाल लेता था।

लखनऊ। साइबर क्राइम सेल ने गुरुवार देर रात एक फर्जी इंस्पेक्टर को गिरफ्तार किया। आरोपित पुलिस की वर्दी में टहलता था। आरोप‍ित ने कैंस‍िल चेक के माध्‍यम से कई लोगों के खाते से थोड़ी-थोड़ी करके रकम उड़ा लेता था। पूछताछ में वृंदावन कॉलोनी सेक्टर सात सी निवासी कृष्णकांत राव ने बताया कि वह अपने एक दोस्त से विभिन्न बैंकों के कैंसिल चेक का डाटा खरीदता था। 

इसके बाद कृष्णकांत पुलिस की वर्दी में लोगों के घर जाता था और उनसे उनके लोन से संबधित जांच की बात कहकर कैंसिल चेक ले लेता था।

 आरोपित ने बताया कि एक साथ वह सैकड़ों की संख्या में कैंसिल चेक बैंक में लगाता था और फिर इलेक्ट्रॉनिक क्लीयरेंस सर्विस के माध्यम से ऑनलाइन पेमेंट करा लेता था। लोगों के खाते से ढाई सौ से तीन सौ रुपये एक साथ प्रति माह कटते थे। कई लोग इस ओर ध्यान नहीं देते थे और आरोपित के खाते में हर माह मोटी रकम पहुंच जाती थी।




कृष्णकांत ने ठाकुरगंज इलाके में कई लोगों से कैंसिल चेक लेकर ठगी की थी। रुपये कटने का मैसेज आने के बाद लोग थाने पहुंचे। बताया गया कि एसएसआइ ठाकुरगंज संजय द्विवेदी के खिलाफ कुछ लोगों ने इस फर्जीवाड़े का आरोप लगाते हुए प्रार्थना पत्र दे दिया था। साइबर सेल की टीम ने जब आरोपित के घर में दबिश दी तो वह पुलिस की वर्दी में मिला। आरोपित ने नेम प्लेट पर जितेंद्र सिंह लिखवा रखा था। कृष्णकांत के पिता जगदीश सचिवालय में चालक के पद से सेवानिवृत हैं। कृष्णकांत ने लखनऊ विवि से स्नातक की पढ़ाई की है। ठाकुरगंज पुलिस आरोपित से पूछताछ कर रही है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ