Ticker

6/recent/ticker-posts

उत्तर प्रदेश शिक्षा के मंदिर में तमंचे की फैक्ट्री :#UP_police_Moradabad: Tammanche-Factory-Running-Inside-School;

 उत्तर प्रदेश शिक्षा के मंदिर में तमंचे की फैक्ट्री : स्कूल के अंदर चल रहा था अवैध हथियार बनाने का कारोबार

#6am_news_times_lucknow 


 यूपी के मुरादाबाद में पुलिस ने एक स्कूल के अंदर चला रहे तमंचा वटी का खुलासा करते हुए चार लोगों को पकड़ा है । हालांकि स्कूल का संचालक फरार होने में कामयाब हो गया । पुलिस ने सूचना मिलने पर की थी। स्कूल में छापेमारी परिसर से ही तमंचा और कारतूस बरामद किया। मुरादाबाद जिले में पुलिस द्वारा एक स्कूल प्रांगण में चल रही अवैध तमंचा बनाने की फैक्ट्री पर छापामार कर चार अभियुक्तों को मौके से गिरफ्तार कर लिया है । 


पुलिस अधिकारी के अनुसार स्कूल प्रबंधक सहित दो अभियुक्त मौके से फरार हो गए हैं । आरोप है कि स्कूल प्रबंधक के द्वारा लॉक डाउन के बाद से स्कूल में अवैध हथियार बनाने का काम चल रहा था । पहले भी कई मामलों में स्कूल प्रबंधक जेल जा चुका है । अवैध तमंचा फैक्ट्री से बने अधबने तमंचे, कारतूस के साथ भारी मात्रा में तमंचे बनाने के उपकरण भी पुलिस ने बरामद किए हैं।

  मुरादाबाद के थाना डिलारी के आनंद पब्लिक स्कूल में पुलिस ने छापामार कर अवैध तमंचा फैक्ट्री से चार अभियुक्तों मुकेश , प्रशांत , जयपाल और राजाराम को मौके से गिरफ्तार कर लिया , जबकि उनके साथी स्कूल प्रबंधक धर्मानंद सहित दो अभियुक्त मौके से फरार हो जाने में कामयाब हो गए । पुलिस ने मौके से अवैध तमंचा फैक्ट्री से 2 तमंचे 315 बोर , 2 तमंचे 12 बोर , 19 तमंचे 315 बोर अधबने , 28 नाल 315 बोर , 2 नाल 12 बोर , 4 कारतूस जिन्दा 315 बोर , 1 खोखा कारतूस 315 बोर व भारी मात्रा में अवैध शस्त्र बनाने के उपकरण भी बरामद किया है । 

 एसपी ग्रामीण विद्या सागर मिश्रा ने बताया कि डिलारी थाना क्षेत्र के आनंद पब्लिक स्कूल के प्रांगण में पुलिस टीम द्वारा छापेमारी कर अवैध तमंचा बनाने की फैक्ट्री पकड़ी है । इसमें बने हुए तमंचे और अर्थनिर्मित तमंचे , तमंचा बनाने की सामग्री और मशीन बरामद की है . चार अभियुक्तों की गिरफ्तारी हुई है । दो अभियुक्त मौके से फरार हो गए जिनकी गिरफ्तारी का प्रयास किया जा रहा है । भागे हुए अभियुक्त में से एक स्कूल के प्रबंधक है । जिनके बारे में अभी बताया जा रहा है की पहले भी जेल जा चुके हैं उनके पकड़े जाने पर पूछताछ के बाद ही जानकारी होगी । कब से यहां अवैध हथियार बनाये जा रहे थे कहा कहा और किन किन लोगों को यह हथियार सप्लाई की जा रही थी । स्कूल प्रबंधक पहले भी कई मामलों में जेल जा चुका है । जब से स्कूल बंद चल रहे हैं उसी पीरियद्ध से यह काम इनके द्वारा वहां स्कूल प्रांगण में किया जा रहा था ।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ