Ticker

6/recent/ticker-posts

UPPSC Result 2018: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस 2018 के परिणाम किए घोषित।

 UPPSC Result 2018: उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने पीसीएस 2018 के परिणाम किए घोषित। 

करिश्मा गांगुली 6AM NEWS TIMES 

 यूपी पीसीएस 2018 में पानीपत की अनुज नेहरा ने किया टॉप , Top तीन पर छात्राओं का वर्चस्व 

प्रयागराज । उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने शुक्रवार को पीसीएस 2018 के नतीजों की घोषणा कर दी है । प्रदेश की सेवा में 988 पदों के लिए भर्ती परीक्षा में 976 अभ्यर्थियों को अंतिम रूप से सफल घोषित किया गया है । सूचना अधिकारी और जिला सूचना अधिकारी के 12 पद रिक्त हैं । इन पदों के लिए योग्य अभ्यर्थियों के न मिलने के कारण पदों को कैरी फारवर्ड कर दिया गया है । पीसीएस परीक्षा 2018 का अंतिम परिणाम आयोग की बेवसाइट http://uppsc.up.nic.in पर है ।

यूपी पीसीएस 2018 मेंस परीक्षा में सफल 2669 अभ्यर्थियों को इंटरव्यू में बुलाया गया था। कोविड-19 के बीच में भी 15 जुलाई से 25 अगस्त तक इंटरव्यू हुआ था। 988 पदों पर भर्ती होनी थी। इंटरव्यू 984 पदों के लिए आयोजित किया गया था। सहायक नगर आयुक्त के एक रिक्त पद और लेखाधिकारी (नगर विकास विभाग) के तीन रिक्त पदों का चयन केवल मुख्य परीक्षा के आधार पर होता है। पीसीएस मुख्य परीक्षा अक्तूबर 2019 में आयोजित की गई थी, जिसमें 16738 अभ्यर्थी शामिल हुए थे और इनमें से 2669 अभ्यर्थियों को इंटरव्यू में शामिल होने के लिए सफल घोषित किया गया था।

टॉप तीन में छात्राओं का ही कब्जा है। पानीपत की अनुज नेहरा ने टॉप किया तो गुरुग्राम की संगीता राघव दूसरे तथा मथुरा की ज्योति शर्मा तीसरे स्थान पर हैं। चौथे स्थान पर जालौन के विपिन कुमार शिवहरे व पांचवें स्थान पर पटना के कर्मवीर केशव हैं। पदों की भर्ती के मामले में हाल के वर्ष में उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग की इधर के वर्षों की सबसे बड़ी परीक्षा से प्रदेश को 988 अधिकारी मिलेंगे। इस बार की परीक्षा में शीर्ष तीन स्थान पर जगह पाने वाले उत्तर प्रदेश के बाहर के हैं। अयोग के सचिव जगदीश निधि ने बताया कि परिणाम छात्र-छात्राओं के लिए आयोग कार्यालय में सूचना पट पर भी लगाया गया है।

पीपीएससी ने सम्मिलित राज्य/प्रवर अधीनस्थ सेवा परीक्षा यानी पीसीएस-2018 के तहत 988 पदों की भर्ती निकाली थी। परीक्षा के लिए 6,35,844 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन आवेदन किया। प्रारंभिक परीक्षा 28 अक्टूबर 2018 में प्रदेश के 29 जिलों के 1381 पर हुई थी, जबकि 18 से 22 अक्टूबर 2019 तक प्रयागराज व लखनऊ के विभिन्न केंद्रों में मुख्य परीक्षा कराई गई। इसमें 19096 के सापेक्ष 16738 अभ्यर्थी शामिल हुए थे। आयोग ने 23 जून को मुख्य परीक्षा का रिजल्ट घोषित किया। इंटरव्यू के लिए 2669 अभ्यर्थी सफल हुए। साक्षात्कार 15 जुलाई से 25 अगस्त तक चला और 68 अभ्यर्थी अनुपस्थित थे। आयोग ने भर्ती के 988 पदों के सापेक्ष 976 अभ्यर्थियों का चयन किया है। सूचना अधिकारी व जिला सूचना अधिकारी के 12 पद खाली हैं।

आयोग सचिव जगदीश ने बताया कि जिन चयनितों के आगे प्रोविजनल शब्द अंकित है वे निर्धारित समयावधि में समस्त शैक्षिक दस्तावेज उपलब्ध करा दें, अन्यथा उनका चयन निरस्त कर दिया जाएगा। रिजल्ट हाईकोर्ट में लंबित याचिका में पारित होने वाले अंतिम निर्णय के अधीन रहेगा

सचिव ने कहा कि चयनितों का प्राप्तांक, श्रेणीवार व पदवार कटऑफ अंक जल्द आयोग की वेबसाइट में जारी किया जाएगा। इसमें सूचना का अधिकार अधिनियम-2005 का प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किया जाएगा। 

चार पदों का साक्षात्कार नहीं। 

पीसीएस-2018 के तहत चार पदों पर साक्षात्कार नहीं हुआ। अधिशासी अधिकारी श्रेणी-1/ सहायक नगर आयुक्त के एक व लेखाधिकारी (नगर विकास विभाग) के तीन पदों पर अभ्यर्थियों का चयन लिखित परीक्षा के आधार पर किया गया है। 

पीसीएस मुख्य परीक्षा 2019 व आरओ-एआरओ 2016 के प्रवेशपत्र जारी 

उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग ने दो अहम परीक्षाओं के प्रवेशपत्र वेबसाइट पर अपलोड कर दिया है। अभ्यर्थी उसे डाउनलोड कर सकते हैं। आयोग समीक्षा अधिकारी व सहायक समीक्षा अधिकारी (आरओ-एआरओ) 2016 की प्रारंभिक लिखित परीक्षा 20 सितंबर को करा रहा है। पीसीएस 2019 की मुख्य परीक्षा 22 सितंबर से शुरू हो रही है। दोनों परीक्षाओं के प्रवेशपत्र वेबसाइट पर अपलोड हैं। 

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ