राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

HARYANA : किसानों पर अत्याचार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं : राव नरेंद्र सिंह

 किसानों पर अत्याचार किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं : राव नरेंद्र सिंह।

सुनील खोवाल 6 AM NEWS TIMES 


नारनौल / सोमवार को पूर्व मंत्री राव नरेंद्र सिंह की अध्यक्षता में कांग्रेस पार्टी द्वारा नारनौल लघु सचिवालय में केंद्र सरकार द्वारा किसानों , मजदूरों व आढ़तियों को बर्बाद करने के लिए तीन काले कानूनों के विरोध में प्रदर्शन किया व जिला उपायुक्त के माध्यम महामहिम राष्ट्रपति जी के नाम ज्ञापन सौंपा गया । 

इस अवसर पर महेंद्रगढ़ से विधायक राव दान सिंह व पूर्व विधायक राव बहादुर सिंह ने मुख्य रूप से शिरकत की , मंच संचालन अनिल सैनी ने किया । 

इस अवसर पर पूर्व मंत्री राव नरेंद्र सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि अभी हाल ही में केंद्र की भाजपा सरकार द्वारा तीन कृषि अध्यादेश/विधेयक लाए गए हैं, जो कि पूरी तरह से किसान, मजदूर और आढ़ती विरोधी हैं। इन अध्यादेशो/विधेयको के जरिए सरकार के कुछ पसंदीदा पूंजीपतियों को लूट की खुली छूट होगी और किसान अपनी फसल बेचने के लिए इन पूंजीपतियों पर निर्भर होंगे। उन्हें न्यूनतम समर्थन मूल्य भी नहीं मिल पाएगा। किसान खेतीबाड़ी के लिए पूंजीपतियों से बंध जाएगा, जिससे किसानों का वजूद समाप्त हो जाएगा। वहीं यह अध्यादेश/विधेयक हमारे आढ़ती भाइयों के लिए भी साजिश भरे हैं। सरकार द्वारा बड़े पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाने के लिए मंडी व्यवस्था को खत्म किया जा रहा है। 

इस अवसर पर राव बहादुर सिंह ने सम्बोधित करते हुए कहा कि ‘आवश्यक वस्तु अधिनियम संसोधन’ के तहत अनाज, दालों, प्याज, आलू इत्यादि को जरूरी वस्तु अधिनियम से बाहर कर दिया गया है, इनकी स्टॉक सीमा समाप्त कर दी गई है। 

इस अवसर पर महिला जिलाध्यक्ष सुनिता मावता , सरोज चौधरी , मुरारी लाल शर्मा , श्याम लाल पूर्व किसान नेता , रोहतास मास्टर , सतबीर झुकिया , महेश सोडा , जसवंत शेरावत , सुरेन्द्र नम्बरदार , सुरेंद्र पटवा , एडवोकेट सुमित कुमार , सुरेंद्र नारनोलिया , नन्द लाल सैनी व राजाराम गोलवा ने सभा को सम्बोधित किया ।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें