राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

यूपी योगी की सख्ती के बाद। एसपी मणिलाल पाटीदार और देवेंद्र शुक्ल थाना इंचार्ज पर दर्ज हुआ हत्या की साजिश का मुकदमा।

उत्तर प्रदेश के महोबा के पूर्व [ एस पी मणिलाल पाटीदार और एक थाना इंचार्ज देवेंद्र शुक्ल ] पर एक व्यापरी की हत्या की साजिश रचने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है।



महोबा: यूपी योगी की सख्ती के बाद। एसपी मणिलाल पाटीदार और देवेंद्र शुक्ल थाना इंचार्ज पर दर्ज हुआ हत्या की साजिश का मुकदमा।

वीडियो वायरल करने के दो दिन बाद ही इन्द्रकांत को गोली मार दी गई। 

उत्तर प्रदेश के महोबा ज़िले से ससपेंड किये गए एस पी मणिलाल पाटीदार और एक थाना इंचार्ज देवेंद्र शुक्ल पर एक व्यापरी की हत्या की कोशिश और उसकी हत्या की साज़श करने के आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है। महोबा के एक व्यापारी इन्द्रकांत त्रिपाठी ने 5 सितंबर को अपना एक वीडियो वायरल कर महोबा के एस पी मणिलाल पाटीदार पर आरोप लगाया था कि उनके दबाव में वो उन्हें 6 लाख रुपये महीना घूस दे रहे थे, लेकिन काम मंदा होने की वजह से उन्होंने एसपी से हर महीने 6 लाख रुपये देने में मजबूरी जताई तो उन्होंने उन्हें जान से मरवा देने की धमकी दी। 


इन्द्रकांत का महोबा में स्टोन क्रशर और माइनिंग के लिए विसफोटक सप्लाई का काम है. वीडियो वायरल करने के दो दिन बाद ही इन्द्रकांत को गोली मार दी गई. गोली उन्हें गर्दन में लगी है. उनकी हालत गंभीर है. वो इलाज के लिए कानपुर में भर्ती हैं। 

घटना के बाद एस पी मणिलाल पाटीदार को 9 तारीख को सरकार ने ससपेंड कर दिया था। कल देर रात उनके खिलाफ हत्या का प्रयास और हत्या की साज़िश करने के आरोप में महोबा में मुक़दमा दर्ज हो गया है।उनके साथ महोबा के कबरई थाना इंचार्ज देवेंद्र शुक्ल और इंद्रमणि के दो प्रतिद्वंदी व्यापारियों पे भी एफ़ आई आर हुई है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें