Ticker

6/recent/ticker-posts

UP Criminals, पुलिस बूथ के पास युवती को जिंदा जलाया,

     

      गाजियाबाद में दिल दहला देने वाली वारदात

गाजियाबाद: पुलिस बूथ से चंद कदम दूर युवती को जिंदा जलाया, श्यामा प्रसाद मुखर्जी पार्क के पास मिला शव 

6 AM NEWS TIMES : Edited by. Ravindra yadav Lucknow 9415461079, 30 , Jun, 2022 : Thu , 01 : 37 PM,


गाजियाबाद दिल दहला देने वाली वारदात सामने आई है। यहां पुलिस बूथ से महज 50 मीटर की दूरी पर युवती को जिंदा जला दिया गया। मौके पर पहुंची पुलिस शिनाख्त के प्रयास कर रही है।


गाजियाबाद के कविनगर औद्योगिक क्षेत्र में बुधवार रात करीब साढ़े दस बजे 25 साल की युवती को पुलिस बूथ से महज 50 मीटर की दूरी पर जिंदा जला दिया गया। उसका शव श्यामा प्रसाद मुखर्जी की प्रतिमा के पास मिला। यह 100 फीसदी झुलसी हुई हालत में था। पुलिस अस्पताल लेकर पहुंची तो चिकित्सक ने मृत बताया।

बुधवार रात कविनगर में पुलिस बूथ के पास जिंदा जलाई गई युवती की शिनाख्त की कोशिश कामयाब नहीं हो पाई है। इसलिए हत्या का राज भी नहीं खुला है। युवती के शव की फोटो गाजियाबाद, हापुड़, मेरठ और दिल्ली के थानों में भेजी गई है। कल रात से अब तक 20 लापता महिलाओं के फोटो के साथ शव के फोटो के मिलान किया गया, लेकिन किसी से भी नहीं मिला।



महिला का शव मिला है। लग रहा है कि इसे कहीं और से लाया गया है। पूरे जिले में अलर्ट किया गया है। लापता महिलाओं के बारे में जानकारी की जा रही है। 

पुलिस ने कविनगर औद्योगिक क्षेत्र में लगे कैमरों की 40 से अधिक फुटेज देखी है लेकिन युवती को यहां लाकर जलाने वालों का सुराग नहीं मिला है। इस बीच, फोरेंसिक टीम की रिपोर्ट से साफ हो गया है कि युवती को उसी जगह जलाया गया, जहां 100 फीसदी झुलसी अवस्था में उसका शव मिला। हालांकि, पुलिस का कहना है कि हो सकता है कि उसे मारा कहीं और गया हो और शव लाकर जलाया यहां गया हो। सही जानकारी शिनाख्त के बाद ही हो सकेगी।

दरअसल, बुधवार की रात में पार्क से पास से गुजरते लोगों ने युवती को पड़ा देखकर पुलिस को सूचना दी थी। युवती के कपड़े भी पूरी तरह से जल चुके थे। चेहरा भी पूरी तरह से जला दिया गया। पुलिस का कहना है कि उसे पेट्रोल जैसे किसी ज्वलनशील पदार्थ से जलाया गया है और पेड़ के पास फेंका गया। आसपास जलाए जाने के निशान नहीं मिले हैं। इस आधार पर लग रहा है कि उसका शव किसी वाहन में रखकर लाया गया। 


फोरेंसिक टीम ने जुटाए साक्ष्य। 

पुलिस के बाद फोरेंसिक टीम ने मौका मुआयना किया। आसपास देखा कि कहीं युवती को किसी बोरे या बैग में रखकर न लाया गया हो, लेकिन ऐसा कुछ नहीं मिला। फील्ड यूनिट ने मौके के फोटो खींचे। वहां महिला के जले हुए कपड़ों के हिस्से मिले। इनके नमूने लिए गए।

लापता महिलाओं की डिटेल निकलवाई। 

पुलिस अधिकारियों ने रात में ही सभी थाना प्रभारियों को निर्देश दिए कि वे अपने क्षेत्र की लापता महिलाओं की डिटेल निकलवाएं। लोनी, मसूरी, सिहानी गेट में बात की गई। यहां से महिला लापता बताई गई हैं। पुलिस 25 से 30 साल की लापता महिलाओं के बारे में जानकारी कर रही है।




✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️✔️

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ