Ticker

6/recent/ticker-posts

Prayagraj News : ऑफलाइन परीक्षाओं के विरोध में छात्रों के आंदोलन के कारण.........?

इविवि एवं संघटक कॉलेजों के छात्रों से 10 मार्च तक मांगे गए आवेदन
बवाल के बाद अब बहुमत से होगा परीक्षाओं पर निर्णय विश्वविद्यालय में दिन तनाव, तैनात रही फोर्स

6am On way : Edited by स्नेहा द्विवेदी, प्रयागराज 9415461079 05/Mar/2022 : Thu. 08:12 AM


प्रयागराज ऑफलाइन परीक्षाओं के विरोध में जारी छात्रों के आंदोलन के कारण विश्वविद्यालय परिसर में बृहस्पतिवार को दिनभर तनाव की स्थिति बनी रही और परिसर में बड़ी संख्या में फोर्स तैनात रही।


इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आंदोलन के दौरान कई बार पुलिस एवं छात्र आमने-सामने आए और पुलिस को लाठियां पटककर छात्रों को खदेड़ना पड़ा। इलाहाबाद विश्वविद्यालय (इविवि) में ऑनलाइन परीक्षाओं को लेकर हुए बवाल के बाद अब बहुमत के आधार पर परीक्षाओं पर निर्णय लिया जाएगा। इसके लिए इविवि के रजिस्ट्रार प्रो. एनके शुक्ला की ओर से सूचना जारी की गई है कि जो छात्र ऑनलाइन मोड में परीक्षा चाहते हैं, वे अपना आवेदन 10 मार्च तक कुलानुशासक कार्यालय में जमा करने को कहा गया है।


ऑनलाइन परीक्षाओं के लिए हुए बवाल के बाद इविवि के रजिस्ट्रार की ओर से सूचना जारी की गई कि विश्वविद्यालय एवं संघटक महाविद्यालयों के जो छात्र-छात्राएं ऑनलाइन मोड में परीक्षाएं देना चाहते हैं वे आवेदन जमा करें। आवेदन में अपना विषय लिखने के साथ ऑनलाइन परीक्षा के कारणों को स्पष्ट करते हुए आईकार्ड की छायाप्रति भी संलग्न करें। हालांकि कुछ दिनों पहले ही इस मसले पर


उच्च स्तरीय समिति ने छात्र प्रतिनिधियों से वार्ता की थी और कुलपति को अपनी रिपोर्ट भी सौंप दी है। वहीं, रजिस्ट्रार की ओर से सूचना जारी किए जाने के बाद इलाहाबाद विश्वविद्यालय, श्याम प्रसाद मुखर्जी महाविद्यासलय समेत कई संघटक कॉलेजों के छात्रों ने ऑनलाइन परीक्षाओं के लिए अपने आवेदन सौंप दिए हैं। 




निलंबन के साथ मांगा स्पष्टीकरणः प्रयागराज इविवि प्रशासन ने जिन चार छात्र नेताओं को निलंबित किया है, उनसे स्पष्टीकरण भी तलब किया है। चीफ प्रॉक्टर प्रो. हर्ष कुमार की ओर से जारी निलंबन नोटिस में कहा गया है कि छात्र नेता अभिनव द्विवेदी और हरिओम त्रिपाठी ने तीन मार्च को डेढ़ सौ छात्रों के साथ विश्वविद्यालय मेन गेट बंद कर दिया, कक्षाओं में घुसकर अभद्रता और गाली गलौज की बंधक बनाने की कोशिश की और तोड़फोड़ की। साथ ही विश्वविद्यालय के गेस्ट हाउस में चल रहे शिक्षक भर्ती के इंटरव्यू में बाधा पहुंचाने का प्रयास किया। वहीं, छात्र नेता आदर्श भदौरिया और अजय यादव सम्राट को नोटिस में कहा गया है कि दोनों ने ऑनलाइन परीक्षाओं के लिए चल रहे आंदोलन की आड़ में विश्वविद्यालय में सरकारी कार्य में बाधा पहुंचाई।
















%%%%%%%%%%%%%%%%%%%


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Chat with 6AM-News-Times The admin will reply in few minutes...
Hello, How can I help you? ...
Click Here To Start Chatting...