Ticker

6/recent/ticker-posts

Samajwadi Party ; भाजपा आई तो पेट्रोल 200 और महंगाई दो गुना..............

 

भाजपा दोबारा सरकार में आई तो पेट्रोल 200 और महंगाई दो गुना बढ़ जाएगी। 

जनता को हवाई जहाज का सपना दिखा कर हवाई जहाज, पानी का जहाज, बंदरगाह बेच दिया, ट्रेनें बिकने वाली है, अखिलेश यादव 

6एएम न्यूज टाइम्स रविंद्र यादव 9415461079 लखनऊ, 24 / फरवरी / 2022,  दिन : गुरुवार ( 07 : 35 ) 


पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने आज बहराइच, श्रावस्ती, गोण्डा और बाराबंकी के विधानसभा क्षेत्रों में समाजवादी पार्टी गठबंधन प्रत्याशियों के पक्ष में जनता को सम्बोधित किया।  

भाजपा के लोगों ने कहा था कि सन् 2022 में किसानों की आय दोगुनी हो जाएगी । क्या किसान की आय दोगुनी हुई ? जब किसान खाद लेने गए तो क्या उन्हें खाद मिली? क्या डीएपी भी मिली ? भाजपाई कहते थे कि हवाई चप्पल वाले को हवाई जहाज में बैठाएंगे लेकिन गरीब की गाड़ी का तेल महंगा करके गाड़ी खड़ी करा दी। आज पेट्रोल 100 के पार हो गया। ये दोबारा आ गए सरकार में तो पेट्रोल 200 रुपए का हो जाएगा। जैसे ही भाजपा की सरकार आई बड़े-बड़े उद्योगपति भारत का पैसा लेकर भाग गए। अभी एक और उद्योगपति 28 बैंकों का 22 हजार करोड़ लेकर भाग गया। गरीब अगर पैसा ना दे पाए तो बैंक उसे परेशान करती है लेकिन लगातार लोग पैसा लेकर भाग रहे है। जो पहले भागे थे वो भी कहां के थे, जो अभी भागा वो भी कहां का है?

 


श्री यादव ने कहा कि भाजपाई कह रहे थे कि हवाई चप्पल पहनने वाले गरीबों को हवाई जहाज में बैठाएंगे लेकिन इन्होंने तो सब हवाई जहाज बेच दिए। पानी का जहाज बेच दिया, बंदरगाह बेच दिया, ट्रेनें बिकने जा रही है, रेलगाड़ी बिकने जा रही है और रेलगाड़ी के साथ-साथ रेलवे की जमीन भी बिक रही हैं। आरक्षण खत्म करने के लिए मुनाफे वाली सारी संस्थाओं को बेचा जा रहा है। गरीब की जेब से पैसा निकाल कर अमीर की तिजोरी में भर रहे है। खाद, डीजल महंगा। खाद की बोरी से चोरी हो गई। बाबा सीएम ने 11 तारीख को लखनऊ से गोरखपुर की टिकट बुक करा कर रखी हुई है।

    श्री यादव ने कहा कि भाजपा के नेता का लैपटॉप वाला वीडियो देख कर लोग लोटपोट हो रहे है। कह रहे है कि 12 वीं के पास इंटरमीडिएट में एडमिशन लेने वालों को लैपटॉप देंगे। शुक्र है इन्होंने ऐसा नहीं कहा कि इंटर के बाद 10 वीं पास करने वालों को लैपटॉप देंगे। कितना घबराए हुए है भाजपा के नेता सोचो। मंत्री पुत्र ने किसानों पर जीप चढ़ा दी। उन्हें अदालत से जमानत मिल गई, लेकिन जनता की अदालत से जमानत नहीं मिलेगी। जनता इनकी जमानत जब्त कराने का काम करेगी। गौशालाओं के लिए जितना भी पैसा आया सरकार के लोगों ने लूट लिया। आज गाय मां भूखी है उनकी जानें जा रही है। बाबा मुख्यमंत्री का प्रिय जानवर टक्कर मार कर जानें ले रहा है। ये हमें नई एबीसीडी सिखा रहे थे। हमने भी कहा कि काका गए है मतलब काले कानून तो बाबा भी जाएंगे।

    अखिलेश यादव ने वादा किया कि समाजवादी सरकार बनने पर ये ही नहीं किसानों की हर फसल पर एमएसपी दी जाएगी। चाहे इसके लिए मंडियों का निमार्ण करना पड़े तो करेंगे। 15 दिन में गन्ना भुगतान के लिए कॉरपस फंड बनाएंगे। पुरानी पेंशन को बहाल करेंगे। समाजवादियों ने तय किया है संविदा पर भर्ती नहीं करेंगे और परमानेंट नौकरी देंगे।

    श्री यादव ने कहा कि ये चुनाव यूपी के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। ये चुनाव संविधान को बचाने का है। गंगा जमुनी तहजीब, भाईचारे को बचाने का चुनाव है। आपका भविष्य बचाने का चुनाव है। इसलिए हमने तय किया है कि 300 यूनिट बिजली फ्री होगी। सिंचाई के लिए बिजली फ्री होगी। जब से हमने ये ऐलान किया भाजपा की बिजली गुल हो गई है। हमारे 69000 शिक्षक अभ्यर्थी, शिक्षा मित्रों के साथ भाजपा ने आरक्षण घोटाला और समायोजन में अन्याय कियाा। सपा सरकार बनने पर न्याय होगा। बेसिक शिक्षा के अध्यापकों को गृह जनपद के 100 किमी के दायरे में पोस्टिंग होगी। महिला शिक्षकों को गृह जनपद में पोस्टिंग देंगे। 12 वीं पास बहनों को 36 हजार रुपए कन्या विद्याधन देंगे। समाजवादी पेंशन को तीन गुना कर 15 सौ रुपए महीना और सालाना 18 हजार रुपये देंगे। पिछली सरकार में 15 लाख लैपटॉप बांटे थे। इस बार भी बाटेंगे। साथ ही 22 लाख रोजगार आईटी के क्षेत्र में देंगे। समाजवादी कैंटीन भी बनाने का काम करेंगे। जिससे गरीबों को 10 रुपए में थाली मिल जाए। सबको मुफ्त राशन साथ में तेल, घी मुफ्त मिलेगा। ये जो राशन मिल रहा है वो मार्च तक ही मिलेगा। सपा का शासन जब तक रहेगा गरीबों को राशन मिलता रहेगा वो भी सरसों के तेल, घी वाला। हम एम्बुलेंस बढ़ाने का भी काम करेंगे, उसे दोगुना कर देंगे। 11 लाख पद सरकार में खाली है। सपा सरकार में लोगों को नौकरी और रोजगार देने का काम होगा।

    श्री यादव ने कहा कि लॉकडाउन के समय एक परिवार, जो नेपाल का रहने वाला था बहराइच के लिए चला। लॉकडाउन लग गया। वह भारत की सीमा में नहीं घुस सकता था । सीमा पर परिवार की गर्भवती महिला का बच्चे का जन्म हुआ और उसका नाम लॉक डाउन रखा गया। सरकार ने उसकी कोई मदद नहीं की लेकिन हमने अपने एमएलसी को भेजकर उस परिवार की ₹100000 से मदद की। जो लोग हम पर घोर परिवारवादी होने का आरोप लगा रहे थे उन्होंने मदद नहीं की। उत्तर प्रदेश में पैदल चलते हुए कुल 90 श्रमिक मरे थे किसी ने इनकी मदद नहीं की। इनके प्रत्येक परिजनों की ₹100000 की मदद सिर्फ समाजवादी पार्टी ने की थी। परिवार वालों का दर्द केवल परिवार वाले ही समझ सकते हैं।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ

Chat with 6AM-News-Times The admin will reply in few minutes...
Hello, How can I help you? ...
Click Here To Start Chatting...