राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

सोशल मीडिया। PM मोदी पे कमेंट करने पर सस्पेंड JE प्रवीण कुमार MLA बनना चाहता है

सोशल मीडिया। PM मोदी पे कमेंट करने पर सस्पेंड JE प्रवीण कुमार MLA बनना चाहते है 

नलकूप विभाग के मनबढ़ अवर अभियंता प्रवीण कुमार पर एक्शन।

 फेसबुक वॉल पर स्वयं को बताया चकिया विस का भावी विधायक। 

राज्य सरकार व केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना में नप गये

          
             पोस्टर में अखिलेश यादव के साथ प्रवीण कुमार

वाराणसी के सिंचाई विभाग के नलकूप खंड प्रथम में जूनियर इंजीनियर को प्रदेश और केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना करने और प्रधानमंत्री के खिलाफ फेसबुक पर अभद्र टिप्पणी करने के कारण निलंबित कर दिया गया है। मुख्य अभियंता और डीएम की संस्तुति पर प्रमुख अभियंता यांत्रिक ने तत्काल प्रभाव से यह कार्रवाई करते हुए उसे मेरठ कार्यालय से संबद्ध कर किया है।


              पोस्टर में अखिलेश यादव के साथ प्रवीण कुमार

इसके अलावा प्रवीण पर यह भी आरोप लगाया जा रहा है कि उसने अपने आप को चकिया विधानसभा के भावी विधायक के रुप में पेश किया और बिना सूचना के अपनी ड्यूटी से भी गायब रहा. उसने अपनी फेसबुक वॉल पर प्रधानमंत्री मोदी के खिलाफ अभद्र भाषा का उपयोग करते हुए उनके लिए टिप्पणी की. इसके अलावा प्रवीण ने राजनीतिक दलों के साथ अपना फोटो भी शेयर किया. उसने प्रदेश और केंद्र सरकार की नीतियों का विशुद्ध विरोध किया.

प्रवीण ने समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता के रूप में स्वयं को चकिया का भावी विधायक के रूप में दर्शाया है. इन पोस्टरों में प्रवीण ने अखिलेश यादव के साथ पोस्टर भी बनाकर लगाए हैं. इसके अलावा लोगों द्वारा उनके लिए भावी विधायक के पोस्ट शेयर किए जा रहे हैं. प्रवीण एक जन नेता के रूप में चकिया विधानसभा का दौरा भी करते हैं.

प्रवीण कुमार को प्रमुख अभियंता देवेंद्र अग्रवाल ने शनिवार को 26 अगस्त को बिना सूचना अवकाश अपनी ड्यूटी से अनुपस्थित रहने के आरोपों के दृष्टिगत विभागीय मुख्य अभियंता और वाराणसी के जिलाधिकारी द्वारा निलंबन की संस्तुति के आधार पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया.निलंबित हुए ई. प्रवीण कुमार, पीएम मोदी पर की थी अभद्र टिप्पणी, फेसबुक पर खुद को बताया चकिया विस भावी विधायक।


इसके अतिरिक्त इस मनबढ़ अवर अभियंता ने प्रदेश सरकार और केंद्र सरकार की नीतियों का विरोध भी किया। वह बीते 26 अगस्त से बिना पूर्व सूचना और अवकाश लिये बगैर गैरहाजिर भी रहा। प्रवीण कुमार के ऐसे आपत्तिजनक कृत्यों को बेहद गंभीरता से लेते हुए पर वाराणसी के मुख्य अभियंता नलकूप और डीएम कौशल राज शर्मा की संस्तुति पर प्रमुख अभियंता यांत्रिक देवेंद्र शर्मा ने शनिवार को निलंबन का आदेश जारी कर दिया। साथ ही उसके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्रवाई करते हुए सस्पेंशन अवधि में मेरठ कार्यालय से संबद्ध कर दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें