Ticker

6/recent/ticker-posts

Congress ; दलित, पिछड़ों के साथ मुस्लिम समाज के कमजोर वर्गों को अपमानित करतीं कांग्रेस।


[ अपनी ही समाप्ति का ताना-बाना बुनती कांग्रेस। ] 

दलित, पिछड़ों के साथ मुस्लिम समाज के कमजोर वर्गों को अपमानित करतीं कांग्रेस। 

6 AM NEWS TIMES : Edited by. Ravindra yadav Lucknow 9415461079, 31 May 2022 : Tue, 07 : 10 AM 


राज्यसभा ; बाहरी और उच्चवर्गी उम्मीदवारों से कांग्रेस ने कई प्रदेशों के दलित पिछड़े एवं मुस्लिम समुदाय के कमजोर वर्ग के प्रति अपनी मानसिकता जाहिर की है। 



रविन्द्र यादव

 ............................... 

लखनऊ ; कांग्रेस के कई राज्यों में क्षेत्रीय एवं जमीनी स्तर के नेता और कार्यकर्ताओं में कांग्रेस के प्रति बदल रही है सोच। लगातार हार के बावजूद कांग्रेस में हां में हां मिलाने वाले हवाई नेताओं को प्राथमिकता दी जा रही है ।


परिवारवाद के साथ अन्य आरोपों का सामना कर रही कांग्रेस के लिए यह एक मुश्किल दौर है जिससे निकलने का कोई भी रास्ता कांग्रेस को सूझ नहीं रहा है, वह सिर्फ अपने जनाधार खो चुके कमजोर नेताओं को संरक्षित करने में ही प्रयासरत है। कांग्रेस के अंदरखाने मची हलचल, इस बात का संकेत दे रही है की कहीं उल्टा न पड़ जाए दांव कांग्रेस पार्टी के राज्यसभा उम्मीदवारों की सूची सामने आते ही कई नेताओं ने खुले तौर पर नाराजगी जताई है।

उन राज्यों में असंतोष ज्यादा है जहां अगले साल विधानसभा चुनाव होने है।



[ राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों का शत प्रतिशत टिकट बाहरी को देने से नाराजगी है। कांग्रेस में टिकट बंटवारे में पिछड़े वर्ग के क्षेत्रीय नेताओं को मौका नहीं दिए जाने से कई नाखुश हैं। ] 


कांग्रेस नेतृत्व की राज्यसभा चुनाव के लिए उम्मीदवारों के नाम से कांग्रेस में किसी बड़े उलटफेर की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता कांग्रेस के क्षेत्रीय एवं जुझारू कार्यकर्ताओं को समझ में नहीं आ रहा, कि आखिर कांग्रेस इस तरह के आत्मघाती कदम क्यों उठा रही है


राजस्थान और छत्तीसगढ़ जैसे राज्यों का शत प्रतिशत टिकट बाहरी नेताओं को देने का फैसला राज्यों को भी रास नहीं आ रहा।


 राजस्थान और छत्तीसगढ़ में अगले साल होने वाले चुनाव को देखते हुए उम्मीदवारों के चयन की कसौटी और सियासी सोच दोनों पर सवाल उठ रहे हैं। उत्तरप्रदेश के बाद लोकसभा में सीटों की संख्या के हिसाब से दूसरे सबसे बड़े राज्य महाराष्ट्र से किसी स्थानीय चेहरे की बजाय इमरान प्रतापगढ़ी को मौका दिए जाने को पार्टी के हित के प्रतिकूल ठहराया जा रहा।


कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेता तो राज्यसभा टिकट बंटवारे को उदयपुर चिंतन शिविर में तय एक परिवार, एक टिकट के नियम के खिलाफ होने का दावा कर रहे हैं। राज्यसभा के लिए कांग्रेस के 10 उम्मीदवारों की सूची के साथ ही रविवार को ही साफ हो गया था कि कांग्रेस का चिंतन शिविर महज एक दिखावे से ज्यादा कुछ नहीं था एक परिवार एक टिकट सिर्फ कार्यकर्ताओं और छोटे नेताओं को बरगलाने का मुहावरा मात्र बनकर रह गया










............ 



एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ