राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

Lucknow_Corona हॉटस्पॉट 972 कंटेनमेंट जोन के बाद जागा प्रशासन, कई सोसाइटी हुईं सील

लखनऊ में 972 कंटेनमेंट जोन की जानकारी के बाद जागा प्रशासन, हॉटस्पॉट इलाकों के साथ कई सोसाइटी की गईं सील, 

अभी भी सैनिटाइजेशन शुरू नहीं हुआ

6 एएम न्यूज़ नेटवर्क,  रविंद्र यादव, लखनऊ, उत्तर प्रदेश             08 : 01: 2022 / 02:55 pm

लखनऊ कोरोना मरीज मिलने के बाद कई अपार्टमेंट को सील कर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना के केस लगातार बढ़ते जा रहे हैं । शनिवार को यूपी में कोरोना के 6 हजार 411 नए मामले सामने आए हैं । 171 लोग डिस्चार्ज किए गए हैं । एक्टिव केस की संख्या बढ़कर 18 हजार 551 हो गई है । शुक्रवार को कोरोना से 6 लोगों की मौत हुई है । पजिटिविटी दर 2.91 प्रतिशत है । 2 लाख 20 हजार 496 सैंपल की जांच की गई ।

कोविड मरीज मिलने के बाद हॉटस्पॉट इलाकों को भी सील करना शुरू कर दिया गया है। गोमती नगर में पारसनाथ प्लेनेट समेत कई अपार्टमेंट को सील कर दिया गया था । पिछले एक सप्ताह से लगातार केस बढ़ने की वजह से ऐसा किया जा रहा है। लखनऊ में अब तक संक्रमित मरीजों की संख्या करीब 1500 तक पहुंच गई है। शहर के अपार्टमेंट में भी कोरोना मरीज मिलने लगे हैं। गोमती नगर विस्तार स्थित बेतवा अपार्टमेंट अभी तक 6 मरीज मिल चुके हैं।

सबसे ज्यादा मरीज अलीगंज इलाके में है। यहां अब तक करीब 300 से ज्यादा केस हैं। इसके बाद आलमबाग में एक्टिव मरीजों की संख्या ज्यादा है। हालांकि अभी तक कहीं भी गंभीर मरीज नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में आवागमन पर कोई रोक नहीं है। शुक्रवार को लखनऊ में 577 एक्टिव मरीज मिले थे।

एक मरीज मिलने पर भी कंटेनमेंट जोन बनेगा। 

मौजूदा समय एक मरीज निकलने पर भी कंटेनमेंट जोन बनाने का निर्देश जारी कर दिया गया है। सीएमओ डॉक्टर मनोज अग्रवाल ने बताया कि अभी 972 कंटेनमेंट जोन है। नगर निगम को यहां हॉटस्पॉट और नोटिस बनाने का निर्देश दे दिया गया है। अधिकारियों ने बताया कि इसकी पूरी सूची नगर निगम को दी जा रही है। उनके आधार पर कार्रवाई हो रही है। इसके अलावा जिस अपार्टमैंट ज्यादा केस निकल रहे हैं। वहां पर कंटेनमेंट जोन बनाकर टेपिंग की जा रही है। इस दौरान वहां आने - जाने वाले लोगों को लगातार जागरूक किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि एपीसेन रोड स्थित एनएचएम विभाग में करीब 30 मरीज निकले हैं। हालांकि अभी अधिकारी इसको लेकर पुष्टि नहीं कर रहे हैं। लेकिन वहां के कुछ कर्मचारी घर वापस आ गए हैं।

जहां कोविड पेसेंट निकले वहीं हो रहा सैनिटाइजेशन

जहां पर कोविड के पेसेंट निकल रहे है वहीं पर सैनिटाइजेशन किया जा रहा है। अभी भी बाजार और शहर के प्रमुख विभागों में सैनिटाइजेशन का काम नहीं हो पाया है। लखनऊ व्यापार मंडल के वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्रा ने बताया कि बाजारों में अभी भी सैनिटाइजेशन नहीं हो रहा है। जबकि सबसे ज्यादा लोग बाजार में आते हैं।







##################£######£#£

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें