Ticker

6/recent/ticker-posts

UP Irrigation Department : किसान भाइयों के खेतों में पानी पहुंचाने के लिए संकल्पित है। पैक्ट की महात्वाकांक्षी योजनाएं।

यूपी सिंचाई विभाग ; किसान भाइयों के खेतों में पानी पहुंचाने के लिए संकल्पित है। पैक्ट की महात्वाकांक्षी योजनाएं। 

#6AM_NEWS_TIMES डेली न्यूज़ पेपर #लखनऊ_से_प्रकाशित। 03:10: 2020 



जलशक्ति मंत्री डॉ.महेन्द्र सिंह की परियोजनाओं के कार्य पे नजर। 

 

विश्व बैंक पोषित उ0प्र0 वाटर सेक्टर रिस्ट्रक्चरिंग परियोजना (पैक्ट) किसानों की आमदनी दुगुनी करने मे हो रही है सहायक ।

16 जनपदों की 162382 हेक्टेयर सिंचन क्षमता में होगी वृद्धि ,717000 किसान होंगे लाभान्वित ।

नहरों का प्रवंध संभालनें लगे हैं किसान, योगी सरकार का ह़ो रहा यशगान ।

लखनऊ: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी के कुशल नेतृत्व व जलशक्ति मंत्री डॉ.महेन्द्र सिंह के सफल मार्गदर्शन मे परियोजना क्षेत्रों मे नहरों का प्रवंध किसानों को सोंपा जारहा है।इसके लिए जल उपभोक्ता समितियों का निर्वाचन करा कर उनका कौशल प्रशिक्षण करा कर अव तक 1588 जल उपभोक्ता समितियों को नहरों (रजवाहों व अल्पिकाओं ) का प्रवंधन सोंपा जा चुका है।इस कार्य की विशेष बैंक दल ने पिछले भ्रमण के समय सराहना की थी।

उत्तर प्रदेश के 16 जनपदों बाराबंकी, रायबरेली, अमेठी, ललितपुर, एटा कासगंज, फिरोजाबाद, मैनपुरी, फर्रूखाबाद, इटावा, कन्नौज, औरैया, कानपुर देहात, कानपुर नगर, फतेहपुर तथा कौशाम्बी में शारदा सहायक एवं निचली गंगा नहर प्रणाली के सुदृढीकरण हेतु विश्व बैंक पोषित उ.प्र. वाटर सेक्टर रिस्ट्रक्चरिंग परियोजना (पैक्ट) प्रगति पर है।

सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस परियोजना के अन्तर्गत 5.97 लाख हेक्टेयर कृषि योग्य क्षेत्रफल में बेहतर सिंचाई सुविधा उपलब्ध होगी। इसके साथ ही जनपद कानपुर में 42496 हेक्टेयर फतेहपुर में 58361 हेक्टेयर, कौशाम्बी में 19019 हेक्टेयर बाराबंकी एवं अमेठी में 32396 हेक्टेयर तथा ललितपुर में 10110 हेक्टेयर इस प्रकार कुल 162382 हेक्टेयर सिंचित क्षेत्र में वृद्धि होगी तथा 717000 किसान लाभान्वित होंगे।


उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश सरकार सिंचाई एवं जलसंसाधन विभाग की अधूरी पड़ी परियोजनाओं को तेजी से पूरा कराकर हर किसान के खेत तक पानी पहुंचाने के लिए संकल्पित है।  




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ