Ticker

6/recent/ticker-posts

नौकरी संविदा पर ? जबरजस्ती रिटायरमेंट ? अखिलेश ने पूछा- किस बात का बदला ले रही है भाजपा।

नौकरी संविदा पर ? जबरजस्ती रिटायरमेंट ? अखिलेश ने पूछा- किस बात का बदला ले रही है भाजपा। 

समाजवादी पार्टी ने भाजपा सरकार पर सवाल उठाते हुए एक ट्वीट में लिखा कि 5 साल का बहुमत लेकर आई बीजेपी साढ़े 3 साल में ही यूपी से रोजगार का खात्म करने पर आमादा है।



समाजवादी पार्टी ने यूपी सरकार की नीतियों पर उठाए सवाल, कहा- किस बात का बदला ले रहे सीएम। 

साढ़े 3 साल में ही यूपी से रोजगार का खात्म करने पर आमादा है सरकार: समाजवादी पार्टी। 

यूपी सरकार ने कर्मचारियों एवं पुलिस कर्मियों की स्क्रीनिंग करने को लेकर दिया है आदेश। 

लखनऊ

यूपी के स्वास्थ्य विभाग में अब कर्मचारियों की स्क्रीनिंग किए जाने के आदेश के बहाने समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। मंगलवार को ही योगी सरकार की ओर से चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा से जुड़े लिपिक संवर्ग कर्मचारियों की दक्षता जांचने के लिए उनकी स्क्रीनिंग करने का आदेश दिया गया है। इस आदेश के बहाने समाजवादी पार्टी ने योगी सरकार से सवाल करते हुए कहा है कि सीएम किस बात का बदला ले रहे हैं, उन्हें इसका जवाब देना चाहिए।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी आदेश की प्रति ट्वीट करते हुए समाजवादी पार्टी ने लिखा, '5 साल तक संविदा। 50 साल में जबरन रिटायरमेंट। 5 साल का बहुमत लेकर आई बीजेपी ने साढ़े 3 साल में ही यूपी से रोजगार का खात्म करने पर आमादा है! किस बात का बदला ले रहे हैं सीएम दें जवाब?'





स्वास्थ्य और पुलिस विभाग में होगी स्क्रीनिंग

बता दें कि हाल ही में योगी सरकार ने कई विभागों में 50 वर्ष से अधिक उम्र वाले कर्मचारियों की कार्यक्षमता की स्क्रीनिंग करने का फैसला किया है। इसके तहत यूपी पुलिस के बाद अब स्वास्थ्य विभाग का भी नंबर आ गया है। पूर्व में पुलिस विभाग ने 31 मार्च 2020 को 50 साल की उम्र पूरी कर चुके पुलिसकर्मियों की स्क्रीनिंग किए जाने का आदेश दिया था। इसके अलावा यह भी खबरें सामने आई थीं कि प्रदेश सरकार सरकारी नौकरियों में अब पहले पांच वर्ष संविदा के आधार पर भर्ती कर सकती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ