Ticker

6/recent/ticker-posts

Prayagraj: ईंट - पत्थरों और लाठियों से पुलिस व राजस्व कर्मियों पर जानलेवा हमला,

Prayagraj : ईंट - पत्थरों और लाठियों से पुलिस व राजस्व कर्मियों पर जानलेवा हमला, 

दारोगा - सिपाहियों समेत 10 लोग घायल ,पुलिस की जीप और बाइक के साथ ही घर के भीतर भी तोड़फोड़ की गई।

6AM NEWS TIMES : Edited by. Ravindra yadav Lucknow 9415461079, 28, Aug, 2022 : Sun, 12 : 16 AM


प्रयागराज हंडिया पुलिस थाने के चक अब्दुल्ला गांव का मामला। दरअसल, न्यायालय के आदेश पर गांव में शांति व्यवस्था कायम करन के लिए पुलिसकर्मी गांव गए थे। 

राघव प्रसाद यादव ने सरकारी कोष में पैसे जमाकर पुलिस सुरक्षा ली फिर भी शातिर दबंगों कर दिया हमला। 

 प्रयागराज जनपद के हंडिया इलाके के चक अब्दुल्ला गांव के रहने वाले राघव प्रसाद यादव अपना मकान बनवा रहे थे, जिसे सूबेदार भारती पक्ष के लोग रोक देते थे। राजस्व अधिकारियों ने पैमाइश के बाद पाया गया राघव प्रसाद को पक्ष में रिपाेर्ट लगाते हुए मकान बनाने को सही बताया। तब राघव प्रसाद ने निर्माण कार्य के दौरान शांति व्यवस्था के लिए पुलिस उपलब्ध कराने की मांग की। इसके लिए उसने कोषागार में करीब पौने दो लाख रुपये जमा किए। 

बताया जा रहा है कि शनिवार दोपहर बाद पुलिस फोर्स चक अब्दुल्ला गांव पहुंची। तब राघव पक्ष के लोग मकान की छत पर लिंटर डलवाने लगे तभी ।मकान के विवाद में शांति व्यवस्था के लिए मौजूद पुलिस और राजस्व विभाग की टीम पर भीड़ ने हमला कर दिया। 

ईंट-पत्थर और लाठियों से प्रहार से एक दारोगा समेत कई पुलिसवाले और महिलाें-पुरुष जख्मी हो गए। पुलिस की जीप और बाइक के साथ ही घर के भीतर भी तोड़फोड़ की गई। पुलिस बल के आने पर बलवाइयों को पकड़ा गया।  


अचानक हुए हमले से नहीं संभल पाए पुलिसवाले। 

पुलिस टीम दोपहर में राघव प्रसाद यादव के विपक्षी जिलेदार भारतीय को बुलाकर बात कर रही थी 

तभी जिलेदार भारतीय समेत सूबेदार, मनोज, मोनू, सुनीता, लक्ष्मी ,चंपा, नीता देवी, कुसुम देवी समेत लगभग 30-40 अन्य लोगों ने पुलिस पार्टी पर ईट-पत्थर व लाठी-डंडे से हमला कर दिया। पुलिसवाले संभल ही नहीं पाए। पथराव में सब इंस्पेक्टर चंद्रशेखर सिंह, हेड कांस्टेबल राम प्रीत, सिपाही विजय सिंह, अभिषेक कनौजिया, महिला कांस्टेबल छाया सिंह, रंजू यादव चुटहिल हो गए। सिपाही रंजू यादव के हाथ की उंगली टूट गई। घर बनवा रहे राघव समेत परिवार की निर्मला यादव, संदीप यादव, प्रदीप यादव घायल हो गए।

शातिर हमलावरों ने पुलिस की सरकारी जीप और कई बाइक को भी तोड़ दिया। 

घर में भी घुसकर तोड़फोड की गई। अचानक हुए इस घटनाक्रम से अफरा-तफरी का माहौल बन गया। खबर पाकर पुलिस बल के साथ एसपी गंगापार और सीओ वहां पहुंचे और स्थिति संभाली। घायल पुलिसवालों को इलाज की खातिर भेजा गया। पुलिस ने मकदमा लिखकर मोनू भारतीय, पिंकू, सोनू, सूबेदार, अनीता, लक्ष्मी, चंपा, एकता, रविता, उर्मिला, रीता देवी, रेशम समेत 13 महिला पुरुषों को गिरफ्तार कर लिया। मौके पर अतिरिक्त पुलिस-पीएसी फोर्स की तैनाती कर दी गई है।

मकान बनाने का विरोध कर रहे थे दबंग। 

चक अब्दुल्ला गांव में दबंग एक मकान के निर्माण का विरोध कर रहे थे।  इसी विरोध को रोकने के लिए हंडिया थाने से पुलिसकर्मी वहां पहुंचे थे। गांव में पुलिसकर्मी जैसे ही दाखिल हुए दबंगों ने पुलिस पर पथराव करना शुरू कर दिया। इतना ही नहीं पुलिसकर्मियों के बैठने के लिए जो कुर्सियां लाई गई थीं वह भी दबंगों ने तोड़ दी। सुरक्षाकर्मियों पर पथराव शुरू हो जाने पर वहां अफरा-तफरा मच गई। 

पुलिस पर हमले के बाद भेजी कई थानों से फोर्स। 

गांव में पुलिसकर्मियों पर हमले की जानकारी मिलने पर जिले के और थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने कई लोगों को हिरासत में लिया है। फिलहाल गांव में हालात सामान्य हैं। मौके पर पहुंचे एसपी अभिषेक अग्रवाल ने आश्वासन दिया कि उपद्रवियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। मौके पर पहुंचे एसपी गंगा पार अभिषेक अग्रवाल का दावा, उपद्रवियों के खिलाफ की जाएगी कड़ी कार्रवाई की जाएगी. उन्होंने कहा,  थाना समाधान दिवस के बाद पुलिस और राजस्व की टीम द्वारा जमीन के विवाद का निप्टारा किया जाना था, लेकिन इसके पहले ही विपक्षी द्वारा दो पुलिसकर्मियों पर पत्थर चला दिया गया, हमारे पुलिसकर्मी घायल हुए हैं. उनका मेडिकल कराया जा रहा है, केस दर्ज कर आवश्यक कानूनी कार्रवाई की जा रही है। 








🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩✔️🚩

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ