Ticker

6/recent/ticker-posts

Lucknow : चिनहट के विकल्प खंड लखनऊ: फूड इंस्पेक्टर के परिवार को बंधक बनाकर डकैती।

चिनहट के विकल्प खंड में फूड इंस्पेक्टर के परिवार को बंधक बनाकर डकैती।  

फूड इंस्पेक्टर के परिवार को बाथरूम में बंधक बनाकर डकैती, सीसीटीवी फुटेज भी ले गए बदमाश

#6AM_NEWS_TIMES डेली न्यूज़ पेपर #लखनऊ_से_प्रकाशित। 




राजधानी लखनऊ के चिनहट थाना क्षेत्र के विकल्प खंड तीन निवासी वरिष्ठ खाद्य निरीक्षक उदय प्रताप सिंह के घर बदमाशों ने देर रात धावा बोल दिया। चोरी की नीयत से घुसे बदमाशों की आहट सुन उनकी नींद खुली तो बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया। इसके बाद पूरे परिवार को बंधक बना लिया।, 

बदमाश इत्मीनान से लूटपाट करने के बाद घर में लगे सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर को भी लेकर चले गए। सूचना पर पहुंची पुलिस पड़ताल कर रही है। पुलिस का कहना है की जल्द ही खुलासा कर दिया जाएगा।

प्रभारी निरीक्षक चिनहट धनंजय पांडेय के मुताबिक उदय प्रताप सिंह लखनऊ में खाद्य विभाग में वरिष्ठ खाद्य निरीक्षक हैं। वह परिवार के साथ विकल्प खंड तीन के मकान नंबर 117 में रहते हैं। सोमवार देर रात तीन से चार बदमाश खिड़की से उनके घर में घुसे थे।

उदय प्रताप सिंह अपने परिवार के साथ एक कमरे में सो रहे थे। चोर दूसरे कमरे में अलमारी तोड़कर सामान निकाल रहे थे। आहट सुनकर उदय प्रताप की नींद खुल गई। दूसरे कमरे की तरफ गए तो वहां चोरों ने पकड़ लिया और हमला कर दिया। इसी दौरान एक चोर ने उदय प्रताप पर चाकू से वार कर दिया। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गए।

बाथरूम में परिवार को बनाया बंधक। 

उदय प्रताप सिंह के मुताबिक, विरोध करने पर बदमाशों ने उन पर हमला कर दिया। इसके बाद पत्नी और बेटी सहित उन सबको बाथरूम में बंद कर दिया। परिवार के लोगों को बंधक बनाने के बाद चोरों ने इत्मीनान से सभी कमरों में अलमारी तोड़कर नगदी और जेवरात बटोर लिए। जाते समय चोरों ने घर में लगे सीसीटीवी कैमरे की डीवीआर भी निकाल ली। पीड़ित के मुताबिक चोर घर के अंदर से करीब 10 लाख के जेवरात और नगदी ले गए हैं।

चोरी और डकैती मैं उलझी पुलिस

पीड़ित के मुताबिक तीन से चार बदमाश घर के अंदर दाखिल हुए। जबकि आशंका है कि दो से तीन बदमाश घर के बाहर अपने साथियों के लिए पहरा दे रहे थे। हालांकि, पुलिस ने इस थ्योरी को मानने से इनकार किया है लेकिन पुलिस भी चोरी, लूटपाट और डकैती तीनों वारदातों के बीच उलझी हुई है

पुलिस आसपास के घरों में लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल रही है। पुलिस का कहना है कि फुटेज में सुराग मिलने पर ही बदमाशों की संख्या स्पष्ट हो सकेगी। हालांकि, प्रभारी निरीक्षक के मुताबिक, पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ