राजनीति

[politics][bigposts]

स्वास्थ्य

[health][bsummary]

ई-न्यूज पेपर

[e-newspaper][twocolumns]

सिपाही की पिस्टल छीन भागना चाहता था आशु जाट , देर रात हुई घटना से हड़कंप।


हापुड़। मिर्ची गैंग के सरगना ढाई लाख रुपये के इनामी बदमाश आशु जाट ने सोमवार की देर रात दिल्ली रोड पर लघुशंका के बहाने पुलिस की गाड़ी रुकवाई और सिपाही की पिस्टल छीन कर भागने का प्रयास किया , लेकिन पुलिस ने तुरंत घेराबंदी कर शातिर आरोपित को कुछ ही दूरी पर पकड़ लिया । बताया जा रहा है कि विकास दुबे की तरह ही आशु जाट ने भी भागने की कोशिश की है , लेकिन वह पकड़ा गया ।


#भाजपा_नेता_चंद्रपाल, #राकेश_शर्मा और नोएडा के #गौरव_चंदेल हत्याकांड का मुख्य आरोपित आशु जाट को हापुड़ पुलिस के इनपुट पर मुंबई पुलिस ने शनिवार को मुंबई के विले पार्ले इलाके से उस समय गिरफ्तार किया था। जब वह रूप बदलकर फल बेच रहा था। आशु की गिरफ्तारी के बाद हापुड़ व मुंबई पुलिस की टीम ने संयुक्त रुप से उसे स्थानीय न्यायालय में पेश किया था। मुम्बई के न्यायालय से आशु को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर छह सदस्य पुलिस टीम सोमवार रात कड़ी सुरक्षा के बीच हापुड़ पहुंची थी।

कोतवाली प्रभारी निरीक्षक सुबोध सक्सेना ने बताया कि पुलिस टीम जब कोतवाली क्षेत्र में दिल्ली रोड पर साई मंदिर के पास पहुंची तो आशु ने लघुशंका के बहाने पुलिस की गाड़ी को रुकवाई और सिपाही अंकुर धामा की पिस्टल छीनने का प्रयास कर मौके से भागने लगा, लेकिन पुलिस ने घेराबंदी कर उसे कुछ ही दूरी पर दबोच लिया। इस संबंध में सर्विलांस सेल के प्रभारी उपनिरीक्षक राजीव कुमार ने मुकदमा दर्ज कराया है।

वहीं पुलिस मंगलवार को आशु को कड़ी सुरक्षा के बीच न्यायालय में पेश करेगी। सुरक्षा को लेकर कड़े इंतजाम किए गए हैं। पुलिस न्यायालय की अनुमति के बाद आशु को कस्टडी रिमांड पर लेगी। भाजपा नेताओं की हत्या व अन्य वारदातों के संबंध में अाशु से पूछताछ की जाएगी। अन्य जनपदों की पुलिस टीम के साथ-साथ एसटीएफ व अन्य टीमें भी आशु से पूछताछ कर सकती हैं। अपर पुलिस अधीक्षक सर्वेश कुमार मिश्र ने बताया कि आशु को कड़ी सुरक्षा के बीच पेश कराने की सभी तैयारी कर ली गई है। संदिग्ध लोगों और वाहनों पर निगाह रखी जा रही है।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें